तुलसी के उपयोग से कर सकते हैं निमोनिया का उपचार व फायदे

निमोनिया से पीडि़त लोगों के लिए तुलसी का उपसोग रामबाण है

अगर पसलियां चल रही हैं तो भी 15 से 20 ग्राम तुलसी के रस को निकालिए. इस रस को गाय के घी या बादाम रोगन में धीमी आंच पर पकाएं. इसे पकाकर के इससे बच्चों की मालिश कीजिए. इससे बच्चों की मसल्स‍ स्ट्रांग होंगी. इम्यून सिस्टम स्ट्रांग होगा और निमोनिया की समस्या भी दूर होगी. इससे बच्चों में सर्दी-गर्मी सहने की क्षमता भी बढ़ जाएगी

तुलसी के उपयोग से कर सकते हैं निमोनिया का उपचार व फायदे, सांस की बीमारी में तुलसी का उपयोग, भूख बढ़ाने में तुलसी का उपयोग, tulasee ke upayog se kar sakate hain nimoniya ka upachaar va phaayade, saans kee beemaaree mein tulasee ka upayog, bhookh badhaane mein tulasee ka upayog, Tulsi can use and benefit of the treatment of pneumonia, respiratory disease, use Tulsi, use Tulsi in appetizer

सांस की बीमारी में तुलसी का उपयोग-

अगर आपको बहुत ज्यादा सांस की दिक्कत है. अस्थमा की दिक्कत है तो इसमें तुलसी बहुत लाभकारी है. गुलबनफ्सा, मुलैठी और तुलसी को मिलाकर काढ़ा बनाइए और सुबह-शाम इसका सेवन कीजिए. इससे सांस की समस्याए कम होगी

भूख बढ़ाने में तुलसी का उपयोग-

आपको या बच्चें को भूख कम लगती है तो भी तुलसी का उपयोग लाभाकारी है. भूख कम लगने पर काली मिर्च, अदरक, हरी मिर्च और तुलसी के पत्तों में नमक डालकर चटनी बना लें. आप चाहे तो हरी मिर्च भी इसमें डाल सकते हैं. खाने के साथ इस चटनी को खाएं और बच्चे को भी खिलाएं. इससे ना सिर्फ भूख बढ़ेगी बल्कि पेट की अन्य‍ समस्या भी दूर होगी. तुलसी की पत्तियां बहुत ज्यादा ना ले

तुलसी के उपयोग से कर सकते हैं निमोनिया का उपचार व फायदे, सांस की बीमारी में तुलसी का उपयोग, भूख बढ़ाने में तुलसी का उपयोग, tulasee ke upayog se kar sakate hain nimoniya ka upachaar va phaayade, saans kee beemaaree mein tulasee ka upayog, bhookh badhaane mein tulasee ka upayog, Tulsi can use and benefit of the treatment of pneumonia, respiratory disease, use Tulsi, use Tulsi in appetizer

<p style=”font-size: 11px; color: #ccc;”>Source By :www.abpnews.abplive.in</p>

Post Author: ayurvedatips

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *